जयशंकर प्रसाद और उनकी रचनाओं पर प्रश्न-6

जयशंकर प्रसाद और उनकी रचनाओं पर प्रश्न-6

 

  1. प्रसाद जी का पहला कहानी-संग्रह ‘छाया’ कब प्रकाशित हुआ ?

(1) 1988 ई. (2) 1910 ई. (3) 1986 ई. (4) 1912 ई.

ANS :(4) 1912 ई.

 

  1. 2निम्नलिखित नाटकों का सही अनुक्रम कौनसा है?

 (A) राज्यश्री, खजुराहो का शिल्पी, कोणार्क, भारत दुर्दशा

(B) कोणार्क, भारत दुर्दशा, राज्यश्री, खजुराहो का शिल्पी,

(C) खजुराहो का शिल्पी, कोणार्क, राज्यश्री, भारत दुर्दशा

(D) भारत दुर्दशा, राज्यश्री. कोणार्क, खजुराहो का शिल्पी

ANS : (D) भारत दुर्दशा (1880 ई., भारतेंदु), राज्यश्री (1914 ई., प्रसाद). कोणार्क (1951 ई., जगदीशचंद्र माथुर), खजुराहो का शिल्पी (शंकर शेष)

 

  1. जयशंकर प्रसाद ने कुल कितनी कहानियां लिखी हैं ?

(1) 80 (2) 70 (3) 79 (4) 90

ANS : (2) 70

 

  1. इनमें से कौन-सी कहानी प्रसाद द्वारा रचित नहीं है ?

(1) ममता (2) पुरस्कार (3) प्रतिध्वनि (4) सुजान भगत

ANS : (4) सुजान भगत

 

  1. बुद्ध गुप्त तथा चंपा किस कहानी के पात्र हैं ?

(1) देवव्रत (2) आकाशदीप (3) पुरस्कार (4) ममता

ANS : (2) आकाशदीप

 

  1. अरुण और मधुलिका किस कहानी के पात्र हैं ?

(1) मंत्र (2) पंच परमेश्वर (3) ममता (4) पुरस्कार

ANS : (4) पुरस्कार

 

  1. प्रसाद जी की पहली कहानी ‘ग्राम’ किस पत्रिका में प्रकाशित हुई थी ?

(1) माधुरी (2) इंदु (3) चांद (4) सरस्वती

ANS : 2) इंदु

 

  1. प्रेम, करुणा, त्याग और बलिदान किस कहानीकार की कहानियों के विषय हैं ?

(1) प्रेमचंद (2) जैनेंद्र (3) प्रसाद (4) अज्ञेय

ANS : (3) प्रसाद

 

  1. निम्नलिखित कहानियों को प्रकाशन-वर्ष के अनुसार सही अनुक्रम में सुमेलित कीजिए :

(1) उसने कहा था, पंच परमेश्वर, आकाशदीप, मलबे का मालिक

(2) पंच परमेश्वर, उसने कहा था, आकाशदीप, मलबे का मालिक

(3) मलबे का मालिक, आकाशदीप, उसने कहा था, पंच परमेश्वर

 (4) आकाशदीप, पंच परमेश्वर, मलबे का मालिक, उसने कहा था

ANS : उसने कहा था (1915 ई.), पंच परमेश्वर (1916 ई.), आकाशदीप (1929 ई.), मलबे का मालिक (1967 ई.)

 

10. प्रसाद द्वारा रचित अधूरा उपन्यास कौन-सा है ?

(1) कंकाल (2) इरावती (3) तितली (4) इनमें से कोई  नहीं

ANS :  (2) इरावती

 

  1. निम्नलिखित कहानीकारों का जन्म-वर्ष के अनुसार सही अनुक्रम है :

(1) निर्मल वर्मा, जयशंकर प्रसाद, राजेंद्र यादव,  अमरकांत

(2) जयशंकर प्रसाद, अमरकांत, निर्मल वर्मा, राजेंद्र यादव

(3) राजेंद्र प्रसाद, अमरकांत, निर्मल वर्मा, जयशंकर प्रसाद

(4) अमरकांत, जयशंकर प्रसाद, निर्मल वर्मा, राजेंद्र यादव

ANS : (2)  जयशंकर प्रसाद (30 जनवरी 1889 ई.),  अमरकांत (1 जुलाई 1925 ई.), निर्मल वर्मा (3 अप्रैल 19929ई.), राजेंद्र यादव (28 अगस्त 1929 ई० ई.)

 

  1. निम्नलिखित कहानियों का प्रकाशन-वर्ष के अनुसार सही अनुक्रम है :

(1) इंदुमती, पंच परमेश्वर, पुरस्कार, तीर्थयात्रा

(2) तीर्थयात्रा, इंदुमती, पुरस्कार, पंच परमेश्वर

(3) पंच परमेश्वर, पुरस्कार, तीर्थयात्रा, इंदुमती

(4) पुरस्कार, इंदुमती, पंच परमेश्वर, तीर्थयात्रा

ANS : इंदुमती,  (1901 ई., किशोरीलाल गोस्वामी), पंच परमेश्वर (1916 ई., प्रेमचंद), पुरस्कार, ( 1931 ई., प्रसाद), तीर्थयात्रा (1983 ई., बलराम) 

 

  1. निम्नलिखित सूचियों को सुमेलित करते हुए सही कोड का चयन कीजिए :

(1) त्रिशंकु             (i) प्रेमचंद

(2) इंद्रजाल           (ii) अज्ञेय

(3) मानसरोवर      (iii) कमलेश्वर

(4) त्रिपथगा                    (iv) मन्नू भंडारी (v) जयशंकर प्रसाद

कोड :

(a)     (b)     (c)      (d)

(1)     (i)      (ii)     (iii)    (iv)

(2)     (iv)    (v)     (ii)     (iii)

(3)     (iii)    (iv)    (i)      (ii)

(4)     (ii)     (iii)    (v)     (i)

ANS :  (3)   (iii)    (iv)    (i)      (ii)

 

  1. सूचियों को सुमेलित करके उत्तर का चयन दिए गए विकल्पों में से कीजिए :

(1) देवव्रत                       (i) यशपाल

(2) बड़े भाई साहब         (ii) प्रसाद

(3) दोपहर का भोजन      (iii) प्रेमचंद

(4) परदा                        (iv) अमरकांत (v) अज्ञेय

कोड :

          (a)     (b)     (c)      (d)

(1)     (i)      (ii)     (iii)    (iv)

(2)     (iv)    (v)     (ii)     (iii)

(3)     (iii)    (iv)    (i)      (ii)

(4)     (ii)     (iii)    (v)     (i)

ANS :  (3)   (iii)    (iv)    (i)      (ii)

 

15. निम्नलिखित नाटकों का सही अनुक्रम लिखिए :

(A) चन्द्रगुप्तअंधेर नगरीआषाढ़ का एक दिनआठवां सर्ग

(B) अंधेर नगरीआषाढ़ का एक दिनचन्द्रगुप्तआठवां सर्ग

(C) अंधेर नगरीचन्द्रगुप्तआषाढ़ का एक दिनआठवां सर्ग

(D) अंधेर नगरीआषाढ़ का एक दिनचन्द्रगुप्तआठवां सर्ग   

ANS : (C) अंधेर नगरी (1881 ई., भारतेंदु)चन्द्रगुप्त (1928 ई., प्रसाद)आषाढ़ का एक दिन (1958 ई., मोहन राकेश)आठवां सर्ग (1976 ई., सुरेंद्र वर्मा)

  

  1. निम्नलिखित उपन्यासों को रचना-काल के सही अनुक्रम में सुमेलित कीजिए :

(1) प्रेमाश्रम, मृगनयनी, तितली, परख

(2) तितली, प्रेमाश्रम, परख, मृगनयनी

(3) प्रेमाश्रम, परख, तितली, मृगनयनी

(4) तितली, प्रेमाश्रम, मृगनयनी, परख

ANS : (3) प्रेमाश्रम (1921 ई.), परख (1929 ई.), तितली (1934 ई., प्रसाद), मृगनयनी (1950 ई., वृंदालाल वर्मा)

 

  1. निम्नलिखित रचनाओं को उनके प्रकाशन वर्ष के अनुसार सही अनुक्रम में सुमेलित कीजिए :

(1) चंद्रकांता, कंकाल, गोदान, सूरज का सातवां घोड़ा

(2) कंकाल, गोदान, चंद्रकांता, सूरज का सातवां घोड़ा

 (3) सूरज का सातवां घोड़ा, चंद्रकांता, कंकाल, गोदान

(4) गोदान, कंकाल, चंद्रकांता, सूरज का सातवां घोड़ा

ANS : (1) चंद्रकांता (1888 ई., देवकीनंदन खत्री), कंकाल (1929 ई., प्रसाद), गोदान (1936 ई., प्रेमचंद), सूरज का सातवां घोड़ा (1952 ई., धर्मवीर भारती)

 

  1. प्रसाद की गुंडा कहानी में भारतीय इतिहास के किस युग का चित्रण है ?

(1) सल्तनत युग का                  (2) मुगल काल का

(3) विक्टोरिया का शासन         (4) ईस्ट इंडिया कंपनी का समय

ANS : (4) ईस्ट इंडिया कंपनी का समय

 

  1. निम्नलिखित कहानियों का सही अनुक्रम कौन-सा है

(1) पुरस्कार, कफन, राजा निरबंसिया, वापसी

(2) वापसी, पुरस्कार, कफन, राजा निरबंसिया

(3) वापसी, पुरस्कार, राजा निरबंसिया, कफन

(4) कफन, वापसी, पुरस्कार, राजा निरबंसिया

ANS : (1) पुरस्कार (1931 ई., प्रसाद), कफन (1936 ई.,प्रेमचंद), राजा निरबंसिया (1957 ई., कमलेश्वर), वापसी (1960 ई., उषा प्रियंवदा)

 

  1. जयशंकर प्रसाद की लोकमंगल की भावना से युक्त राष्ट्र और विश्व कल्याण के लिए प्रेरित करने वाली कहानी है :

(1) करुणा की विजय (2) मधुलिका (3) मधुवा (4) इंद्रजाल

ANS : (2) मधुलिका

 

  1. प्रकाशन काल की दृष्टि से सही अनुक्रम है :

(1) निरूपमा, चंद्रलेखा, चांदनी रात, कंकाल

(2) कंकाल, चांदनी रात, चित्रलेखा, निरुपमा

(3) चित्रलेखा, निरुपमा, कंकाल, चांदनी रात

(4) चांदनी रात, निरुपमा, चित्रलेखा, कंकाल

ANS : (2) कंकाल (1929 ई., प्रसाद), चांदनी रात (1930 ई.,ऋषभचरण जैन), चित्रलेखा (1934 ई., भगवती चरण वर्मा), निरुपमा (1936 ई., निराला)

 

  1. किस उपन्यास में धार्मिक नैतिक संस्थाओं में व्याप्त पाखंड पूर्ण आचरण का चित्रण चित्रण हुआ है

(1) तितली (2)  कंकाल (3) इरावती (4) इनमें से कोई नहीं

ANS : (2)  कंकाल

 

  1. ‘तितली’ के रचनाकार हैं :

(1) जैनेंद्र कुमार (2) अमृतराय (3) विवेकी राय (4) जयशंकर प्रसाद

ANS : (4) जयशंकर प्रसाद

 

  1. 24. ‘ममता‘ शीर्षक कहानी के कहानीकार हैं :

(A) दिनकर (B) प्रसाद (C) निराला (D) प्रेमचंद

इनमें से सही जोड़ी चुनिए : 

(A) (a) (b)

(B) (b) (c)

(C) (c)(d)

(D) (b)(d)

ANS : (D) (b)(d) (b) (D) (B) प्रसाद (D) प्रेमचंद

 

25. ‘उर्वशी‘ शीर्षक रचना के रचनाकार हैं :

(A) दिनकर (B) प्रसाद (C) महादेवी वर्मा (D) प्रेंमचंद

इनमें से सही जोड़ी चुनिए : 

(A) (a) (b)

(B) (b) (c)

(C) (c)(d)

(D) (a)(d)

ANS : (A) (a) (b) (A) दिनकर (B) प्रसाद

 

  1. निम्नलिखित पात्रों को लम्बद्ध काव्यकृतियों के साथ सुमेलित कीजिए :

          सूचीI                    सूचीII

(1) #कर्ण             (i) उर्वशी

(2) #कमला              (ii) यशोधरा

(3) #औशीनरी     (iii) रश्मिरथी

(4) #राहुल           (iv) प्रलय की छाया (v) कामायनी

कोड :

(a)     (b)     (c)      (d)

(1)     (i)      (ii)     (iii)    (iv)

(2)     (iv)    (v)     (ii)     (iii)

(3)     (iii)    (iv)    (i)      (ii)

(4)     (ii)     (iii)    (v)     (i)

ANS :  (3)   (iii)    (iv)    (i)      (ii)

 

  1. निम्नलिखित कहानियों को उनसे सम्बद्ध पात्रों के साथ सुमेलित कीजिए :

          सूचीI                    सूचीII

()1 #आकाशदीप (i) सुनन्दा

(2) #दिल्ली में एक मौत      (ii) मालवी

(3) #उसने कहा था (iii) बुद्धगुप्त

(4)#गैंग्रीन (iv) आतुल (v) बोधासिंह

कोड :

           (a)     (b)     (c)      (d)

(1)     (iii)    (iv)    (v)     (ii)

(2)     (iv)    (ii)     (iii)    (i)

(3)     (ii)     (iii)    (iv)    (v)

(4)     (iv)    (i)      (ii)     (iii)

 ANS : (1)   (iii)    (iv)    (v)     (ii)

 

  1. निम्नलिखित #स्त्रीपात्रों को सम्बद्ध नाटकों के साथ सुमेलित कीजिए :

          सूचीI                    सूचीII

  1. #उर्वी       (i) सूर्यमुख
  2. #सुन्दरी     (ii) स्कन्दगुप्त

      3, #वेनुरती   (iii) देहान्तर

  1. #देवसेना  (iv) पहला राजा (v) लहरों के राजहंस

कोड :

          (a)     (b)     (c)      (d)

(1)     (i)      (iii)    (iv)    (ii)

(2)     (iv)    (iii)    (ii)     (v)

(3)     (iv)    (v)     (i)      (ii)

(4)     (v)     (iv)    (iii)    (ii)

ANS : (3)    (iv)    (v)     (i)      (ii)

 

29. प्रकाशन वर्ष की दृष्टि से प्रसाद के नाटकों का सही अनुक्रम है :

(1) सज्जन, विशाख, जनमेजय का नागयज्ञ, ध्रुवस्वामिनी

(2) विशाख, ध्रुवस्वामिनी, सज्जन, जनमेजय का नागयज्ञ

(3) जनमेजय का नागयज्ञ, सज्जन, ध्रुवस्वामिनी, विशाख

(4) ध्रुवस्वामिनी, जनमेजय का नागयज्ञ, सज्जन, विशाख

ANS : (1) सज्जन (1910 ई.), विशाख (1921 ई.), जनमेजय का नागयज्ञ (1926 ई.), ध्रुवस्वामिनी (1932 ई.)

 

30रचनाके कालानुसार सही अनुक्रम लिखिए :

(A) अंधायुगप्रायश्चितकोर्ट मार्शलभारत दुर्दशा

(B) भारत दुर्दशाप्रायश्चितकोर्ट मार्शलअंधायुग

(C) अंधायुगभारत दुर्दशाप्रायश्चितकोर्ट मार्शल

(D) भारत दुर्दशाप्रायश्चितअंधायुगकोर्ट मार्शल

ANS :  (D) भारत दुर्दशा (1880 ई.,भारतेंदु)प्रायश्चित (1913 ई., प्रसाद)अंधायुग (1955 ई.,धर्मवीर भारती)कोर्ट मार्शल (1991 ई., स्वदेश दीपक)

  

31.पात्रों को नाटकों के साथ सुमेलित कीजिए :

(A) चन्द्रगुपत       (i) महेन्द्रनाथ

(B) आधेअधूरे      (ii) प्रपंच बुद्धि

(C) कोणार्क        (iii) चाणक्य

(D) अंधायुग        (iv) अश्वत्थामा (V) विशु

कूट :

         (a)   (b)   (c)    (d)

(A)   (i)    (iii)   (iv)   (ii)

(B)   (iii)   (i)    (V)   (iv)

(C)   (ii)    (ii)    (i)    (V)

(D)   (iii)   (ii)    (iv)   (i)

ANS : (B)   (iii)   (i)    (V)   (iv)

 

  1. पात्रों को उनके नाटकों के साथ सुमेलित कीजिए :

(A) देवसेना       (i)  कोणार्क

(B) विशु           (ii) आधेअधूरे

(C) गांधारी       (iii) स्कन्दगुप्त

(D) सावित्री       (iv) रातरानी (V)  अंधायुग

कूट :

(a)   (b)   (c)    (d)

(A)   (iii)   (i)    (V)   (ii)

(B)   (V)   (ii)    (i)    (iii)

(C)   (ii)    (V)   (iii)   (iv)

(D)   (i)    (iv)   (V)   (ii)

ANS : (A)   (iii)   (i)    (V)   (ii)