T PARVEEN

मुबारक (Mubarak : The Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

मुबारक (Mubarak : The Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में मुबारक : सैयद मुबारक अली बिलग्रामी का जन्म संवत् 1640 में हुआ था,...

Continue reading...

अब्दुर्रहीम खानखाना : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में (Rahim : hindi poet)

अब्दुर्रहीम खानखाना : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में ये (अब्दुर्रहीम खानखाना) अकबर बादशाह के अभिभावक प्रसिद्ध मोगल सरदार बैरम खाँ खानखाना के पुत्र थे। इनका...

Continue reading...

पं. अयोध्यासिंहजी उपाधयाय ‘हरिऔध’ : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

  पं. अयोध्यासिंहजी उपाधयाय ‘हरिऔध‘ : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में कवि के रूप में पं. अयोध्यासिंहजी उपाधयाय (हरिऔध) : भारतेंदु के पीछे और द्वितीय...

Continue reading...

#ANEK SHABDON KE EK SHABD-SANGRAH (Hindi Grammar)/अनेक शब्दों के एक शब्द-संग्रह (हिंदी व्याकरण)

#ANEK SHABDON KE EK SHABD-SANGRAH (Hindi Grammar)/अनेक शब्दों के एक शब्द-संग्रह (हिंदी व्याकरण)   #अंडे से जनमनेवाला__अंडज #अंतःकरण की वेदना__अंतर्वेदना #अग्नि-सा/ अग्नि से उत्पन्न/ अग्नि से...

Continue reading...

भिखारीदास (Bhikharidas): आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

भिखारीदास (Bhikharidas): आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में दास (भिखारी दास) : ये प्रतापगढ़ (अवध) के पास टयोंगा गाँव के रहने वाले श्रीवास्तव कायस्थ थे। इन्होंने...

Continue reading...

भिखारादास : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

भिखारादास : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में दास (भिखारी दास) : ये प्रतापगढ़ (अवध) के पास टयोंगा गाँव के रहने वाले श्रीवास्तव कायस्थ थे। इन्होंने...

Continue reading...

नंददास : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

नंददास : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में ‘अष्टछाप’ के आठ कवि हैं : सूरदास, कुंभनदास, परमानंददास, कृष्णदास, छीतस्वामी, गोविंदस्वामी, चतुर्भुजदास और नंददास। (हिंदी साहित्य का...

Continue reading...

#कुपथ कुपथ रथ दौड़ाता जो #जानकीवल्लभ शास्त्री

  #कुपथ कुपथ रथ दौड़ाता जो #जानकीवल्लभ शास्त्री #उतर रेत  में, आक जवास भरे खेत में पागल बादल, शून्य गगन में व्यर्थ मगन मंडलाता है! इतराता...

Continue reading...