MD JAMEEL

नामदेव : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

नामदेव आचार्य : रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में महाराष्ट्र देश के प्रसिद्ध भक्त नामदेव (संवत् 1328-1408) ने हिंदू मुसलमान दोनों के लिए एक सामान्य भक्तिमार्ग का...

Continue reading...

#कुपथ कुपथ रथ दौड़ाता जो #जानकीवल्लभ शास्त्री

  #कुपथ कुपथ रथ दौड़ाता जो #जानकीवल्लभ शास्त्री #उतर रेत  में, आक जवास भरे खेत में पागल बादल, शून्य गगन में व्यर्थ मगन मंडलाता है! इतराता...

Continue reading...

भक्तिकालीन रीतिशास्त्रीय ग्रंथ

Bhakti kalin Riti shastriya Granth/भक्तिकालीन रीतिशास्त्रीय ग्रंथ #रूपगोस्वामी : #उज्जवलनीलमणि, #भक्तिरसामृतसिंधु #कृपाराम : #हिततरंगिनी #सूरदास : #साहित्य लहरी #नंददास : #रसमंजरी (नायिका भेद) #केशवदास : #रसिकप्रिया...

Continue reading...

#द्रुत झरो जगत् के जीर्ण पत्र! #सुमित्रानंदन पंत

#द्रुत झरो जगत के जीर्ण पत्र! #सुमित्रानंदन पंतu   द्रुत झरो जगत के जीर्ण पत्र! हे स्रस्त-ध्वस्त! हे शुष्क-शीर्ण! हिम-ताप-पीत, मधुवात-भीत, तुम वीत-राग, जड़, पुराचीन!! निष्प्राण...

Continue reading...

रीतिकाल (उत्तर मध्यकाल) पर एक दृष्टि

रीतिकाल (उत्तरमध्यकाल) पर एक दृष्टि रीतिकाल (उत्तरमध्यकाल) के अनेक रंग (सीमा : संवत् 1700-1900, 1643-1843 ई.) #रीतिकाल का नामांकरण विद्वान                    नाम #मिश्रबन्धु विनोद           :  #अलंकृतकाल #आचार्य रामचन्द्र शुक्ल        : ...

Continue reading...

नंददुलारे वाजपेयी की रचनाएं

नंददुलारे वाजपेयी की रचनाएं नंददुलारे वाजपेयी (जन्म : 4 सितम्बर, 1906, उन्नाव, उत्तर प्रदेश; मृत्यु : 11 अगस्त, 1967 ई.) हिन्दी के प्रसिद्ध पत्रकार, समीक्षक, साहित्यकार, आलोचक तथा सम्पादक #नंददुलारे वाजपेयी की #रचनाएं #हिंदी साहित्य...

Continue reading...