UGC/NTA NET/JRF, DECEMBER-2004, H-2 QUESTIONS & ANSWERS

UGC/NTA NET/JRF, DECEMBER-2004, H-2 QUESTIONS & ANSWERS

  1. मैथिली का विकास किस अपभ्रंश से माना जाता है ?

(A) शौरसेनी अपभ्रंश (B) मागधी अपभ्रंश (C) अर्धमागधी अपभ्रंश (D) महाराष्ट्री अपभ्रंश

  1. ‘कीर्तिलता’ किस भाषा की रचना है ?

(A) अवहट्ठ (B) अपभ्रंश (C)  मैथिली (D) ब्रज

  1. संविधान के किस अनुच्छेद में देवनागरी लिपि में लिखित हिन्दी को संघ की राजभाषा घोषित किया गया है ?

(A) 347 (B) 348 (C) 343 (D) 345

  1. आदिकाल में किस कवि ने अवहट्ट भाषा में रचना की ?

(A) अमीर ख़ुसरो (B) अब्दुल रहमान (C) कुतुबन (D) मंझन

  1. उत्तर भारत में भक्ति का प्रसार करने का श्रेय किसे प्राप्त है ?

(A) शंकराचार्य (B) रामानुजाचार्य (C) रामानन्द (D) मध्वाचार्य।

  1. सहजोबाई किस शाखा की रचनाकार हैं ?

(A) कृष्णभक्ति शाखा (B) रामभक्ति शाखा (C) ज्ञानाश्रयी शाखा (D) प्रेमाश्रयी शाखा

  1. ‘उज्ज्वलनीलमणि’ के रचयिता कौन हैं ?

(A) रूपगोस्वामी (B) वल्लभाचार्य (C) विट्ठलनाथ (D) मध्वाचार्य

  1. ‘चन्दायन’ किस कवि की रचना है ?

(A) मलिक मुहम्मद जायसी (B) कुतुबन (C) मंझन (D) मुल्ला दाऊद

  1. दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा, मद्रास की स्थापना किसने की ?

(A) सी. राजगोपालाचारी (B) महात्मा गांधी (C) मोटूरि सत्यनारायण (D) विनोबा भावे

  1. (अ) छायावाद राष्ट्रीय सांस्कृतिक जागरण की काव्यात्मक अभिव्यक्ति है ?

(ब) छायावाद का सीधा सम्बन्ध स्वाधीनता आन्दोलन से है।

इनमें से

(A) अ और ब दोनों सही है।

(B) अ ग़लत और ब सही है।

(C)  अ पूर्णतः और ब अंशतः सही है।

(D) अ और ब दोनों अंशतः सही है।

  1. कौन-सी बोली पश्चिमी हिन्दी की नहीं है ?

(A) ब्रज भाषा (B) खड़ी बोली (C) बुन्देली (D) बघेली

  1. हिन्दी भाषा के मानकीकरण का सचेष्ट प्रयास किस पत्रिका में किया गया है ?

(A) सरस्वती (B) आनन्द कादम्बिनी (C) सुदर्शन (D) हिन्दी प्रदीप

  1. (अ) अनुभूति की प्रामाणिकता नयी कहानी-आन्दोलन का प्रमुख आग्रह था।

(ब)  इस आन्दोलन का आरम्भ व्यक्ति केंद्रित कहानी के विरोध में हुआ था।

इनमें से

(A) अ और ब दोनों सही हैं।

(B) अ अंशतः और ब पूर्णतः सही हैं।

(C) अ सही और ब अंशतः सही हैं।

(D) अ और ब दोनों अंशतः सही हैं।

  1. निम्नलिखित में से कौन-सी बोली पूर्वी हिन्दी की नहीं है ?

(A) अवधी (B) बघेली (C) छत्तीसगढ़ी (D) मालवी

  1. ‘कल्पना’ पत्रिका प्रकाशन किस नगर से होता था ?

(A) कलकत्ता (B) हैदराबाद (C) अहमदाबाद (D) इलाहाबाद

  1. ‘माध्यम’ पत्रिका का सम्पादक कौन है ?

(A) सत्यप्रकाश मिश्र (B) नन्दकिशोर आचार्य (C) काशीनाथ सिंह (D) रवीन्द्र कालिया

  1. (अ) रेखाचित्र और संस्मरण के बीच विभाजक रेखा बहुत सूक्ष्म है।

(ब) ये दोनों परस्पर अन्तर्भुक्त हो जाते हैं।

इनमें से

(A) अ, ब दोनों सही है।

(B) ब सही अ ग़लत ।

(C) अ ब दोनों ग़लत ।

(D) अ सही ब अंशतः सही।

  1. निम्नलिखित भाषाओं के विकास का सही अनुक्रम बताइए :

(A) प्राकृत-पालि-अपभ्रंश-हिन्दी (B) पालि-प्राकृत-अपभ्रंश-हिन्दी

(C) पालि-अपभ्रंश-प्राकृत-हिन्दी (D) अपभ्रंश-प्राकृत-हिन्दी-पालि

  1. निम्नलिखित कवियों का सही कालक्रम बताइए :

(A) सरहपा-सोमप्रभुसूरि-गोरखनाथ-हेमचन्द्र (B) गोरखनाथ-सोमप्रभुसूरि-सरहपा-हेमचन्द्र

(C) सरहपा-गोरखनाथ-हेमचन्द्र-सोमप्रभुसूरि (D) सोमप्रभुसूरि-गोरखनाथ-सरहपा-हेमचन्द्र

  1. किस लेखिका ने पशु-पक्षी पर केन्द्रित रचना की है ?

(A) महादेवी वर्मा (B) सुभद्राकुमारी चौहान (C) होमवती देवी (D) सत्यवती मलिक

  1. इन कवियों का सही कालक्रम निर्देश कीजिए :

(A) चिन्तामणि-केशवदास-मतिराम-पद्माकर (B) मतिराम-पद्माकर-चिन्तामणि-केशवदास

(C) पद्माकर-केशवदास-मतिराम-चिन्तामणि (D) केशवदास-चिन्तामणि-पद्माकर-मतिराम

  1. सही कृति क्रम को पहचानिए :

(A) पल्लव-गुंजन-युगान्त-युगवाणी (B) पल्लव-युगान्त-गुंजन-युगवाणी

(C) गुंजन-पल्लव-युगान्त-युगवाणी (D) पल्लव-गुंजन-युगवाणी-युगान्त

  1. ‘सेठ बांकेमल’ किसकी रचना है ?

(A) पाण्डेय बेचन शर्मा ‘उग्र’ (B) यशपाल (C) अमृतलाल नागर (D) भगवतीचरण वर्मा

  1. ‘वारेन हेस्टिंग का सांड’ कहानी की रचना किसने की ?

(A) शिवमूर्ति (B) संजीव (C) उदय प्रकाश (D) सृंजय

  1. हिन्दी नाटकों के मंचन में ‘यक्षगान’ का प्रयोग किस निर्देशक ने किया ?

(A) गिरीश कर्नाड (B) इब्राहीम अल्काजी (C) सत्यदेव दुबे (D) कारंत

  1. “नील परिधान बीच सुकुमार, खिला मृदुल अधखुला अंग

खिला हो ज्यों बिजली का फूल, मेघ वन बीच गुलाबी रंग”

इन पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है ?

(A) उपमा (B) उत्प्रेक्षा (C) रूपक (D) दृष्टान्त

  1. निम्नलिखित आचार्यों के बीच सही कालक्रम का निर्देश कीजिए :

(A) भामह-दण्डी-आनन्दवर्धन-क्षेमेन्द्र (B) आनन्दवर्धन-अभिनवगुप्त-विश्वनाथ-जगन्नाथ

(C) भट्ट नायक-विश्वनाथ-कुन्तक-जगन्नाथ (D) भरत-भामह-कुन्तक-जगन्नाथ

  1. कृति कालक्रम की दृष्टि से कौन-सा सही है ?

(A) रामचन्द्रिका-ललित ललाम-जगद्विनोद-बिहारी सतसई

(B) पल्लव-परिमल-लहर-नीरजा

(C) वरदान-ग़बन-कंकाल-चित्रलेखा

(D) कुल्लीभाट-अतीत के चलचित्र-माटी की मूरतें, पथ के साथी

  1. रचनाकार कालक्रम में सही का निर्देश कीजिए :

(A) दिनकर-बच्चन-अज्ञेय-मुक्तिबोध (B) बच्चन, दिनकर, अज्ञेय, मुक्तिबोध

(C) अज्ञेय-दिनकर-बच्चन-मुक्तिबोध (D) दिनकर-अज्ञेय-बच्चन-मुक्तिबोध

  1. निम्नलिखित में से कृति कालक्रम की दृष्टि से कौन-सा सही है ?

(A) वीणा-ग्राम्या-लोकायतन-कला और बूढ़ा चाँद (B) नीहार-रश्मि-दीपशिखा-सान्ध्य गीत

(C) गीतिका-कुकुरमुत्ता-बेला-अर्चना (D) प्रेमपथिक-झरना-लहर-आँसू

  1. निम्नलिखित में से सही कृति कालक्रम कौन-सा है ?

(A) सुखमय जीवन-शरणार्थी-ठुमरी-दो बाँके (B) शरणार्थी-ठुमरी-सुखमय जीवन-दो बाँके

(C) दो बाँके-ठुमरी-सुखमय जीवन-शरणार्थी (D) सुखमय जीवन-दो बाँके-शरणार्थी-ठुमरी

  1. निम्नलिखित निर्गुण कवियों का सही कालक्रम कौन-सा है ?

(A) दादू-कबीरदास-सुन्दरदास-मलूकदास (B) मलूकदास-सुन्दरदास-कबीरदास-दादू

(C) सुन्दरदास-मलूकदास-दादू-कबीरदास (D) कबीरदास-दादू-मलूकदास-सुन्दरदास

  1. निम्नलिखित काव्य-पंक्तियों को सुमेलित कीजिए :

(A) नैया बीच नदिया डूबति जाय               (1) रहीम

(B) अजगर करे न चाकरी, पंछी करे न काज     (2) कबीर

(C) गुरु सुआ जेइ पंथ दिखावा                 (3) ख़ुसरो

(D) तबलग ही जीवो भलो देबौ होय न धीम      (4)  जायसी  (5) मलूकदास

a     b     c     d

(A)   5     1     2     3

(B)   2     5     4     1

(C)   2     3     5     1

(D)   2     1     5     4

  1. निम्नलिखित रचनाओं को कवियों के साथ सुमेलित कीजिए :

(A) मृगावती       (1) जायसी

(B) मधुमालती      (2) मुल्ला दाऊद

(C) चन्दायन       (3) उसमान

(D) अखरावट       (4) कुतुबन   (5) मंझन

a     b     c     d

(A)   2     3     5     4

(B)   3     2     1     4

(C)   4     5     2     1

(D)   1     2     3     4

  1. निम्नलिखित रचनाओं को कवियों के साथ सुमेलित कीजिए :

(A) समय    (1) साकेत

(B) काण्ड    (2) पदमावत

(C) खण्ड    (3) रामचरित मानस

(D) सर्ग     (4) पृथ्वीराज रासो   (5) कबीर ग्रन्थावली

a     b     c     d

(A)   4     3     2     1

(B)   2     3     4     5

(C)   1     2     3     4

(D)   3     2     1     4

  1. निम्नलिखित ग्रन्थों को आलोचकों के साथ सुमेलित कीजिए :

(A) बिहारी सतसई         (1) लाला भगवान दीन

(B) देव और बिहारी       (2) कृष्ण बिहारी मिश्र

(C) बिहारी              (3) विश्वनाथ प्रसाद मिश्र

(D) बिहारी और देव        (4) पदमसिंह शर्मा   (5) महावीर प्रसाद द्विवेदी

a     b     c     d

(A)   4     2     3     1

(B)   3     1     2     5

(C)   4     2     1     3

(D)   5     4     1     2

  1. निम्नलिखित नाटककारों और नाटकों को सुमेलित कीजिए :

(A) लक्ष्मीनारायण लाल           (1) अमर राठौर

(B) पं. उदयशंकर भट्ट           (2) कर्तव्य

(C) श्री चतुरसेन शास्त्री           (3) राक्षस का मन्दिर

(D) सेठ गोविन्ददास             (4) विक्रमादित्य (5) शिवसाधना

a     b     c     d

(A)   1     2     4     3

(B)   2     3     1     4

(C)   3     4     1     2

(D)   5     1     4     3

  1. विखंडन की अवधारणा का सम्बन्ध किस वाद से है ?

(A) आधुनिकतावाद (B) संरचनावाद (C) नयी समीक्षा (D) उत्तर आधुनिकतावाद

  1. ‘वृन्द सतसई’ की विषय-वस्तु क्या है ?

(A) नायिका-भेद (B) श्रृंगार (C) नीति (D) भक्ति

  1. ‘चित्राधार’ किसकी रचना है ?

(A) जयशंकर प्रसाद (B) रामनरेश त्रिपाठी (C) मुकुटधर पांडेय (D) रामेश्वर शुक्ल अंचल

  1. ‘तेरी मेरी उसकी बात’ किसकी रचना है ?

(A) भगवतीचरण वर्मा (B) यशपाल (C) उदयशंकर भट्ट (D) अमृतलाल नागर

  1. ‘ब्रजबुलि’ का प्रयोग कहाँ होता है ?

(A) बिहार (B) ब्रजक्षेत्र (C) उड़ीसा (D) बंगाल

  1. भारतेन्दु के अनुसार ‘हिन्दी नयी चाल में’ कब ढली ?

(A) 1880 (B) 1857 (C) 1873 (D) 1860

  1. निम्नलिखित में से कौन-सा अर्थालंकार है ?

(A) प्रतिवस्तूपमा (B) अनुप्रास (C) यमक  (D) वक्रोक्ति

  1. रामकथा पर आधारित काव्य कौन-सा है ?

(A) आत्मजयी (B) अग्निलीक (C) भूमिजा (D) रश्मिरथी

  1. ‘छायावाद का पतन’ किस लेखक की कृति है ?

(A) शान्तिप्रिय द्विवेदी (B) रामविलास शर्मा (C) विजयदेव नारायण साही (D) देवराज

  1. इनमें कौन ‘तार सप्तक’ का कवि नहीं है ?

(A) राम विलास शर्मा (B) गजानन माधव मुक्तिबोध

(C) शमशेर बहादुर सिंह (D) भारतभूषण अग्रवाल

निम्नलिखित अनुच्छेद को पढ़कर प्रश्नों के उत्तर दीजिए−

प्रसाद जी अपने युग की राष्ट्रीय भावनाओं को प्रतिबिम्बित करते थे, पर उनका इतिहास-बोध सिर्फ़ भावनात्मक नहीं था। भारतीय इतिहास का उनका ज्ञान बहुत गहरा था और उसके बारे में अपनी निर्मोह सत्यशोधक दृष्टि के चलते उनकी विचारणा बहुत बहुत मौलिक और स्वतंत्र थी। इस मामले में वे प्रियबू्रयात् के क़तई क़ायल नहीं थे। वास्तविकता यह है कि लोकप्रिय भावनाओं का इस्तेमाल उन्होंने अपनी उस बेहद आत्मालोचनापूर्ण दृष्टि को प्र्रस्तुत करने के लिए ही किया। वे भारतीय जीवन ही नहीं, भारतीय आचरण के भी प्रखर द्रष्टा आलोचक थे। उनके नाटकों में हमें इतिहास का गौरव ही नहीं, उसकी कुंठा, त्रस और ऊब का भी उतना ही हिलानेवाला साक्षात्कार मिलता है। उनके नाटकों की दुनिया में जो उथल-पुथल और हाहाकार है, वह सिर्फ़ घटना-चक्र में ही नहीं उनके पात्रों के अन्तर्जीवन में भी है। उनके नाटकों में चरित्र अक्सर चरित्र से ज़्यादा मनोवैज्ञानिक वृत्तियों और शक्तियों का प्रतिनिधित्व करने लगते हैं। यही वह सदाबहार, सदा प्रासंगिक जीवन है जो उनके नाट्य-लेखन की असली प्रेरण है, न कि एक तथाकथित अतीत के तथाकथित प्रसिद्ध नायक-नायिकाएँ।

  1. निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा सत्य है ?

(A) प्रसादजी की रचनाओं में उनकी भावनाएँ व्यक्त हुई हैं।

(B)  उनका लेखन ऐतिहासिक भावभूमि पर आधारित नहीं है।

(C)  उनके इतिहास-बोध में वैचारिकता का समावेश है।

(D) उनका इतिहास-बोध उनकी युगीन दृष्टि का पोषक नहीं है।

  1. अनुच्छेद की शैली में :

(A) प्रभावाभिव्यंजकता है।

(B) विवेचन-विश्लेषण प्रमुख है।

(C) अलंकरण की प्रधानता है।

(D) वर्णनात्मकता हैं।

  1. अनुच्छेद का लक्ष्य है :

(A) प्रसाद के साहित्यिक अवदान से परिचित कराना।

(B) प्रसाद की राष्ट्रीय सांस्कृतिक चेतना से परिचित करना।

(C) प्रसाद साहित्य के छायावाद की विशेषताओं का निरूपण करना।

(D) प्रसाद साहित्य की कलागत विशेषताओं का परिचय देना।

D-2004, H-2 ANS KEY

उत्तर :

  1. (B) मागधी अपभ्रंश (बिहारी हिन्दी में भोजपुरी, मगही और मैथिली की गणना होती है।) 02. (A) अवहट्ट 03. (C) संविधानके भाग-17 के अनुचछेद 343 से 351 तक मेंराजभाषा संबंधी प्रावधान किये गए हैं। संविधान के अनुच्छेद 343 के अंतर्गत संघ की राजभाषा के संबंध में प्रावधान किया गया है। अनुच्छेद 343 के खंड (1) के अनुसार भारतीय संघ की राजभाषा हिन्दी एवं लिपि देवनागरी है।  04. (B) अब्दुल रहमान 05. (C) रामानन्द (जन्म सम्वत् 1236), (आदि शंकराचार्य अद्वैत वेदांत के प्रणेता, मूर्तिपूजा के पुरस्कर्ता, जन्म: 788 ई.-मृत्यु: 820 ई., रामानुजाचार्य (1017-1137) विशिष्टाद्वैत वेदान्त के प्रवर्तक थे, स्वामी रामानंद जन्म सम्वत् 1236 में, को मध्यकालीन भक्ति आंदोलन का महान संत माना जाता है। उन्होंने रामभक्ति की धारा को समाज के निचले तबके तक पहुंचाया। वे पहले ऐसे आचार्य हुए जिन्होंने उत्तर भारत में भक्ति का प्रचार किया। संत माधवचार्य अद्वैतवाद के विरोधी और द्वैतवाद, अर्थात् आत्मा और परमात्मा के अलग-अलग अस्तित्व पर विश्वास रखने वाले माधवाचार्य वैष्णव थे।)  06. (C) ज्ञानाश्रयी शाखा 07. (A) रूपगोस्वामी (14वीं-15वीं शती), 08. (D) मुल्ला दाऊद ( डॉ० माता प्रसाद गुप्त के अनुसार मौलाना दाऊद का जन्म वि० सं० 1400 के आस-.पास) 09. (B) दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा की स्थापना सन् 1918 में मद्रास नगर के गोखले हाल में महात्मा गांधी की प्रेरणा से डॉ. सी. पी. रामस्वामी अय्यर की अध्यक्षता में डॉ. ऐनी बेसेंट ने की थी। 10. (C) 11. (D) बघेली 12. (A) सरस्वती 13. (A) अ और ब दोनों सही हैं। 14. (D) मालवी 15. (B) पत्रिका का आरम्भ 15 अगस्‍त, 1949 को हैदराबाद नगर में हुआ, इसके प्रधान सम्पादक आर्येन्द्र शर्मा तथा सम्पादक मंडल में डॉ. रघुवीर सिंह, प्रो. रंजन, मधुसूदन चतुर्वेदी एवं बद्रीविशाल पित्ती थे। ‘कल्‍पना’ अपने शुरुआती दिनों में द्वैमासिक थी, लेकिन तीसरे वर्ष से उसका प्रकाशन मासिक पत्रिका के रूप में होने लगा। 16. (A) सत्यप्रकाश मिश्र, माध्यम (1964, मासिक), प्रयाग/इलाहाबाद संपादक : बालकृष्ण राव, सत्यप्रकाश मिश्र। 17. (D) अ सही ब अंशतः सही। 18. (B) पालि-प्राकृत-अपभ्रंश-हिन्दी 19. (C) सरहपा (769 ई.) गोरखनाथ (यह 11 वी से 12 वी शताब्दी के नाथ योगी थे ।) – हेमचन्द्र (1145-1229 ), – सोमप्रभुसूरि (1190 ई.) 20. (A) (महादेवी वर्मा ने पशु-पक्षी पर केन्द्रित रचना परिवार शीर्षक से की है।) 21. (D) केशवदास (1555-1617), चिन्तामणि (1600-1685), मतिराम (1604-1701), पद्माकर (1753-1833) 22. (A) पल्लव-गुंजन-युगान्त-युगवाणी। पन्त की काव्य-रचनाएँ कालक्रमानुसार : उच्छवास (1920), ग्रंथि (1920), वीणा (1927), पल्लव (1928), गुंजन (1932), युगान्त (1936), युगवाणी (1939), ग्राम्या (1940), कला और बूढ़ा चाँद (1959), लोकायतन (1961)।  23. (C) ‘सेठ बांकेमल’ अमृतलाल नागर की रचना है। 24. (C)  ‘वारेन हेस्टिंग का सांड’ कहानी की रचना उदय प्रकाश ने की । 25. (A)  हिन्दी नाटकों के मंचन में ‘यक्षगान’ का प्रयोग गिरीश कर्नाड ने किया। 26. (A) (A) उपमा 27. (A) संस्कृत आचार्य कालक्रमानुसार : भरत (2री शती ई॰ पूर्व से 2री शती ई॰ पू॰), भामह (छठी शती का मध्यकाल), दण्डी (7वीं शती का उत्तरार्द्ध), वामन (8वीं-9वीं शती के बीच), उद्भट (9वीं शती का पूर्वार्द्ध), रुद्रट (9वीं शती का आरम्भ), शंकुक (9वीं शती का आरम्भ), आनन्दवर्धन (9वीं शती का मध्य भाग), रुद्रभट्ट (10वीं शती), राजशेखर (880-920 के बीच), मुकुल भट्ट (9वीं-10वीं शती), धनंजय (10वीं शती), भट्ट नायक (10वीं शती का मध्य काल), भट्ट नायक (दसवीं शताब्दी), भट्ट लोल्लट (उद्भट और अभिनव गुप्त के बीच), अभिनवगुप्त (10वीं-11वी शती), कुन्तक (10वीं-11वीं शती), सागरनन्दी (11वीं शती का आरम्भ), भोजराज (11वीं शती का पूर्वार्द्ध), महिम भट्ट (11वीं शती का मध्य काल), क्षेमेन्द्र (ग्यारहवीं शताब्दी का उत्तरार्द्ध), मम्मट (11वीं शताब्दी का उत्तरार्द्ध), हेमचन्द्र (12वीं शती), रामचन्द्र-गुणचन्द्र (12वीं शती का पूर्वार्द्ध), वाग्भट्ट प्रथम (12वीं शती का पूर्वार्द्ध), रूय्यक (12वीं शती का मध्य भाग), अमरचन्द्र (13वीं शती का मध्य भाग), जयदेव (13वीं शती का मध्य भाग), शारदातनय (13वीं शती का मध्य भाग), विद्याधर (13वीं-14वीं शती), विद्यानाथ (13वीं-14वीं शती), भानुमिश्र (13वीं-14वीं शती), विश्वनाथ (14वीं शती), केशव मिश्र (14वीं शती), रूपगोस्वामी (14वीं-15वीं शती), अप्पयदीक्षित (16वीं-17वीं शती), पंडितराज जगन्नाथ (16वीं-17वीं शती), अकबरशाह (17वीं शती का मध्य भाग) 28. (B) पल्लव (1928), परिमल (1930), लहर (1933), नीरजा (1935) 29. (B) बच्चन (1907), दिनकर (1908), अज्ञेय (1911), मुक्तिबोध (1917) 30. (B, C) (A) वीणा (1927), ग्राम्या (1939), लोकायतन (1961), कला और बूढ़ा चाँद (1959) (B) नीहार (1930), रश्मि (1932), दीपशिखा (1936), सान्ध्य गीत (1942), (C) गीतिका (1936), कुकुरमुत्ता (1942), बेला (1946), अर्चना (1950), (D) प्रेमपथिक (1913), झरना (1918), लहर (1933), आँसू (1925) 31. (D) सुखमय जीवन (1911), दो बाँके (1931), शरणार्थी (1948), ठुमरी (1959) 32. (D) कबीरदास (1398), दादू (1544), मलूकदास (1574), सुन्दरदास (1596) 33. (D) (A) नैया बीच नदिया डूबति जाय। (कबीर) (B) अजगर करे न चाकरी, पंछी करे न काज। (मलूकदास) (C) गुरु सुआ जेइ पंथ दिखावा। (जायसी) (D) तबलग ही जीवो भलो देबौ होय न धीम। (रहीम) 34. (B) (A) मृगावती (कुतुबन) (B) मधुमालती (मंझन)  (C) चन्दायन (मुल्ला दाऊद) (D) अखरावट (जायसी) 35. (A) समय (पृथ्वीराज रासो), साकेत (सर्ग), काण्ड (रामचरित मानस) पदमावत (खण्ड) 36. (A) बिहारी सतसई (पदमसिंह शर्मा), देव और बिहारी (कृष्ण बिहारी मिश्र), बिहारी (विश्वनाथ प्रसाद मिश्र), बिहारी और देव (लाला भगवान दीन) 37. (C) लक्ष्मीनारायण लाल  (राक्षस का मन्दिर), पं. उदयशंकर भट्ट (विक्रमादित्य), श्री चतुरसेन शास्त्री (अमर राठौर), सेठ गोविन्ददास (कर्तव्य) 38. (B) संरचनावाद 39. (C) नीति 40. (A) जयशंकर प्रसाद 41. (B) यशपाल 42. (D) बंगाल  43. (C) 1873 44. (A) प्रतिवस्तूपमा 45. (C) भूमिजा 46. (D) देवराज  47. (C) तार सप्तक’ के कवि  : गजानन माधव मुक्तिबोध, नेमिचन्द्र जैन, भारत भूषण अग्रवाल, प्रभाकर माचवे, गिरिजाकुमार माथुर, रामविलास शर्मा, अज्ञेय 48. (C) उनके इतिहास-बोध में वैचारिकता का समावेश है। 49. (B) विवेचन-विश्लेषण प्रमुख है। 50. (B) प्रसाद की राष्ट्रीय सांस्कृतिक चेतना से परिचित करना।