हिंदी भाषा और साहित्य तथा भारतीय काव्यशास्त्र एवं पाश्चात्य काव्यशास्त्र पर उत्कृष्ट अध्ययन-सामग्री, UPSC/NTA/UGCNET/JRF/SET/BPSC/PGT/M. ED./B. ED. एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए।

होलराय (Holroy : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र की दृष्टि में

होलराय (Holroy : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र की दृष्टि में ये ब्रह्मभट्ट अकबर के समय में हरिवंश राय के आश्रित थे और कभी कभी...

Continue reading...

रहीम (अब्दुर्रहीम खानखाना, Raheem : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

रहीम (अब्दुर्रहीम खानखाना, Raheem : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में ये अकबर बादशाह के अभिभावक प्रसिद्ध मोगल सरदार बैरम खाँ खानखाना...

Continue reading...

क़ादिर (Qadir : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

क़ादिर (Qadir : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में क़ादिरबख़्श पिहानी जिला हरदोई के रहनेवाले और सैयद इब्राहीम के शिष्य थे। इनका...

Continue reading...

मुबारक (Mubarak : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

मुबारक (Mubarak : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में सैयद मुबारक अली बिलग्रामी का जन्म संवत् 1640 में हुआ था, अत: इनका...

Continue reading...

बनारसीदास (Banarsidas : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

बनारसीदास (Banarsidas : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में ये जौनपुर के रहनेवाले एक जैन जौहरी थे जो आमेर में भी रहा...

Continue reading...

सेनापति (Senapati : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

सेनापति (Senapati : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में ये अनूपशहर के रहनेवाले कान्यकुब्ज ब्राह्मण थे। इनके पिता का नाम गंगाधर, पितामह...

Continue reading...

पुहकर कवि (Puhkar kavi : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

पुहकर कवि (Puhkar kavi : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में ये परतापपुर (जिला मैनपुरी) के रहने वाले थे, पर पीछे गुजरात...

Continue reading...

सुंदर (Sundar : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में

सुंदर (Sundar : the Hindi poet) : आचार्य रामचंद्र शुक्ल की दृष्टि में ये ग्वालियर के ब्राह्मण थे और शाहजहाँ के दरबार में कविता सुनाया करते...

Continue reading...