पर्यायवाची शब्द-1/PARYAYVAACHI SHABD-1

पर्यायवाची शब्द-1 


#’पर्याय’ का अर्थ है ‘बदले में आनेवाला।’ इसलिए ‘पर्यायवाची शब्द’ का अर्थ होता है ‘बदले में आनेवाला शब्द।’ यहाँ पर्यायवाची शब्द प्रस्तुत हैं :

#अंग : अंश, अवयव, भाग, हिस्सा।

#अंधकार : तम, तम्रिसा, तिमिर, ध्यावंत।

#आग : अग्नि, अनल, कृशानु, दहन, ज्वलन, धनंजय, धूम्रकेतु, पावक, रोहिताश्व, लोहिताश्व, वह्नि, वायुसख, वैश्वानर, शिखावान, शुष्मा, हुताशन।

#अद्भुत : अतुल, अनुपम, अद्वितीय, अनूठा, अनोखा, अपूर्व, आश्चर्यजनक, कुतूहलजनक, चामत्कारिक, निराला, लोकोत्तर, विलक्षण, विस्मयजनक।

#अभिमान : अहं, अहंकार, अहंभाव, अवलेप, अस्मिता, आत्मश्लाघा, गर्व, घमंड, दर्प, दंभ, मद, मान, मिथ्याभिमान।

#अन्वेषण :अनुसंधान, खोज, गवेषणा, जाँच, छानबीन, जाँच-पड़ताल, पूछताछ, शोध।

#अमृत : अमिय, पीयूष, सुधा, शुभा।

#अरण्य : कानन, जंगल, वन, विपिन।

#अश्व :अर्वा, घोटक, घोड़ा, तुरग, तुरंग, तुरंगम, वाजि, वाह, सैंधव, हय।

#असुर : दनुज, दानव, इन्द्रारि, कौणप, तमीचर, दैत्य, निशाचर, निशिचर, रक्तप, रजनीचर, रात्रिचर, राक्षस, सुरद्विष, शुक्रशिष्य।

#आँख : अक्षि, अम्बक, ईक्षण, चक्षु, दृग, दृष्टि, नयन, नेत्र, लोचन, विलोचन।

#आकाश : अन्तरिक्ष, अम्बर, अनन्त, अभ्र, आसमान, ख, गगन, दिव, द्यौ, नभ, पुष्कर, महाबिल, व्योम, विष्णुपद, सारंग।

#आनन्द : आमोद, आह्लाद, उल्लास, ख़ुशी, परितोष, प्रमोद, प्रसन्नता, प्रीति, मोक्ष, सुख, हर्ष।

#आम : अमृतफल, अतिसौरभ, आम्र, चूत, पिकबन्धु, प्रियम्बु, रसाल।